‘सपने में मिलती है’ गाने को रीक्रिएट करके एक और याद को कुचल दिया गया

‘सपने में मिलती है’ गाने को रीक्रिएट करके एक और याद को कुचल दिया गया

मनोज बाजपेयी और राम गोपाल वर्मा की कल्ट क्लासिक ‘सत्या’ तो देखी ही होगी. जब वो कहते हैं: मुंबई का किंग कौन? भीखू मात्रे… ऐसा लगता है सच में भीखू मुंबई का किंग है. अगर ‘सत्या’ नहीं देखी है, तब भी उसका एक गाना ‘सपने में मिलती है’ ज़रूर सुना होगा. उसका वीडियो भी देखा ही होगा. मनोज बाजपेयी से लेकर सौरभ शुक्ला का एकदम रॉ डांस. जादू है उस गाने में. अगर आपसे कोई कहे कि उस गाने को रीक्रिएट किया जाए, आप मानेंगे? मैं तो कम से कम इस बात के लिए नहीं मानूंगा. पर मेरे और आपके मानने या न मानने से क्या होता है, गाने को रीक्रिएट कर दिया गया है. पहले असली गाना सुनिए:

 

‘कुड़ी मेरी’ गाने को रीक्रिएट किया है, विनोद भानुशाली की कंपनी Hitz Music ने. नए लिरिक्स लिखे हैं कुमार ने और म्यूजिक दिया है Lijo George और DJ Chetas ने. गाया है ध्वनि भानुशाली और यश नार्वेकर ने. कुछ दिन पहले इसका टीज़र भी आया था. अब पूरा वीडियो आ गया है. इसे डायरेक्ट किया है कोरियोग्राफर गणेश आचार्या ने. इसमें डांस करते हुए नज़र आ रहे हैं ध्वनि भानुशाली और अभिमन्यु दसानी. साथ ही अपने मुंबई के किंग मनोज बाजपेयी भी हैं. ये रहा गाना:

 

आजकल पुरानी जलेबी को नई चाशनी में डुबोकर खाने का चलन हो गया है. बॉलीवुड ने इस चलन को हवा दी है. फिल्मों से लेकर गानों तक सबकुछ दोबारा बनाया जा रहा है. और बहुत भद्दा बनाया जा रहा है. अभी करीब एक सप्ताह पहले मलाइका अरोड़ा के डांस से सजा ‘आप जैसा कोई मेरी ज़िंदगी में आए’ गाना रिलीज़ हुआ है. ये आयुष्मान खुराना की फिल्म ‘एन ऐक्शन हीरो’ का गाना है. नाज़िया हसन के क्लासिक सॉन्ग को रीक्रिएट करने पर पाकिस्तानी एक्टर अदनान सिद्दीकी ने तक ने तंज कस दिया.

 

”क्या आज-कल की हवा में कुछ ऐसा है जो लोग अचानक से पुराने क्लासिक गानों को बर्बाद करने पर तुले हुए हैं? री-क्रिएशन के लिए भी टैलेंट की ज़रूरत होती है. नाज़िया हसन अपनी कब्र में करवट ले रही होंगी. हैशटैग आप जैसा कोई नहीं नाज़िया.”

अदनान के इस ट्वीट पर कई लोगों ने उन्हें सपोर्ट किया है. लोगों का कहना है कि बॉलीवुड अच्छे-अच्छे गानों को री-क्रिएट करके उसे बर्बाद कर रहा है. ऐसे ही तमाम गाने आजकल मार्केट में आते रहते हैं. टोनी कक्कड़ और तनिष्क बागची जैसे लोग पुराने गानों को नया लबादा ओढ़ाकर पेश करने में माहिर हैं.

ऐसा ही कुछ गुलज़ार के लिखे और विशाल के संगीत से सजे गाने ‘सपने में मिलती है’ के साथ भी हुआ है. आशा भोसले और सुरेश वाडेकर जब इसे गाते हैं, नाचने का मन करता है. जैसे ही ढोल के साथ सीटी बजते हुए गाना शुरू होता है, पैर थिरकने लगते हैं. ऊपर से सभी कलाकारों का डांस, मेरा तो ये लिखते-लिखते नाचने का मन हो गया. खैर, अब नया गाना ‘कुड़ी मेरी’ आया है. इसके वीडियो में अंत के कुछ सेकंड के लिए मनोज बाजपेयी भी आते हैं.

एक अपबीट डांस नंबर बनाने की कोशिश की गई है. माने असली गाने का बेड़ागर्क कर दिया है. सिंगर की आवाज़ से ज़्यादा म्यूजिक सुनाई देता है. म्यूजिक भी क्या ही है, शोर है. गाने के यूट्यूब डिसक्रिप्शन में लिखा है: Seeti maaro aur shor machao kyuki they are here with Mumbai ka King! इस लाइन के शोर शब्द पर आप जोर दे सकते हैं. हालांकि लिरिक्स ओरिजनल गाने से अलग हैं. बस ओरिजनल से कुछ लाइंस उठाई गई हैं, जैसे: ‘कुड़ी मेरी सपने में मिलती है’. गाने का म्यूजिक तो उठाया ही गया है. फेमस सीटी उठाई गई है. कुलमिलाकर गाने की आत्मा उठाकर दीवार पर पटक दी गई है. पर आत्मा तो अजर-अमर होती है, उसको कुछ नहीं होगा. पर हमें ये गाना सुनकर दुख ज़रूर होगा. आजकल कोई भी गाना उठाओ, उसमें डीजे वाला फ़ील डालकर रिलीज़ कर दो. ‘कुड़ी मेरी’ को रीक्रिएट करके हमारी एक और मेमोरी को कुचल दिया गया है. मतलब नया कंटेन्ट नहीं है क्या, जो पुराने को बर्बाद करने पर तुले हुए हैं.

admin

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *